calendar icon Sat, August 15, 2020

हर वर्ष 15 अगस्त को भारत अपना स्वतंत्रता दिवस मनाता है। इसी दिन हमें अंग्रेज़ों के शासन से आज़ादी मिली थी। स्वतंत्रता दिवस का मुख्य आयोजन देश की राजधानी नई दिल्ली में होता है। यहां पर सभी सरकारी इमारतों, भवनों को सजाया जाता है। सड़कों के दोनों ओर तिरंगे लगाए जाते हैं। इनके अलावा, देश के प्रधानमंत्री लाल किला की प्रचारी पर राष्ट्रीय ध्वज फहराते हैं। वह देश को अपना संदेश भी देते हैं। देशभर में इस दिन सार्वजनिक अवकाश रहता है। इस पर्व को मनाने के लिए लोग पतंगें भी उड़ाते हैं।

‘‘आधी रात के समय, जब दुनिया सो रही होगी, भारत जीवन व स्वतंत्रता के लिए जाग जाएगा।’’ यही वे शब्द थे जो स्वतंत्र भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने अपने पहले भाषण में दिये थे। यह भाषण उन्होंने देश के नेता के रूप दिया था। और ऐसा ही हुआ भारत ने उपनिवेशवाद की सभी बेड़ियां तोड़ दीं। इसके लिए भारत को ब्रिटिश सरकार से लंबी लड़ाई लड़नी पड़ी थी। स्वतंत्रता संग्राम में अनेक नेताओं एवं क्रांतिकारियों ने हिस्सा लिया था। इनमें से प्रमुख मोहनदास करमचंद गांधी थे, जिन्हें बाद में ‘राष्ट्रपिता’ की संज्ञा से सम्मानित किया गया।